AI और अवसर | AI And Opportunities in Hindi – विचारधारा का आउटसोर्सिंग Outsourcing?

 AI और अवसर | AI And Opportunities in Hindi – विचारधारा का आउटसोर्सिंग Outsourcing?, AI क्या है? | What is AI in Hindi?, मशीन लर्निंग क्या है? | What is Machine Learning in Hindi?, AI के उदाहरण क्या हैं? | What Are Some Examples of AI in Hindi?, विचारधारा का आउटसोर्सिंग? | Outsourcing Thinking in Hindi?, AI: Frequently Asked Questions (FAQs) | कृत्रिम बुद्धिमत्ता: अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न, AI का भविष्य क्या है?, Conclusion.

AI And Opportunities

    AI और अवसर | AI And Opportunities in Hindi

    नवंबर 2022 में, संयुक्त राज्य में एक तकनीकी कंपनी OpenAI ने अपना ChatGPT AI उपकरण लॉन्च किया। पांच दिनों के भीतर, ChatGPT के पास 1 मिलियन उपयोगकर्ता थे। यह किसी भी सॉफ़्टवेयर ने लाखों उपयोगकर्ता का परिचय किए होने में सबसे तेज़ रहा। यह न केवल थे कि बहुत से लोग ChatGPT का उपयोग कर रहे थे, बल्कि बहुत से और लोग इसके बारे में बात कर रहे थे। अगले कुछ हफ्तों में, सोशल मीडिया ChatGPT के क्या क्षमताओं हैं, उसमें क्या है, उसकी बहस में लिपट गया था। अगर आप अबतक ChatGPT के बारे में नहीं सुने हैं, तो मुझे बहुत हैरानी होगी।

    AI क्या है? | What is AI in Hindi?

    AI का मतलब होता है कृत्रिम बुद्धिमत्ता। पहले हम ऐसा सोचते थे कि एक AI एक सुपरकंप्यूटर होगा जिसका अहसास होगा और मानव जैसी चेतना होगी। हालांकि, ऐसे कंप्यूटर को बनाना असंभव है, इसलिए मानवता ने बजाय इसके मशीन लर्निंग AI पर ध्यान केंद्रित किया है।

    मशीन लर्निंग क्या है? | What is Machine Learning in Hindi?

    सोचिए कि एक बच्चा बड़ा होकर और चीज़ें सीखता है। शुरू में, उसे नहीं पता होता कि चूल्हा गरम होता है और छूने के लिए खतरनाक होता है। तो, उसकी उत्सुकता उसके बेहतर होती है और वह चूल्हा छूता है। उसका हाथ जलता है। उसे दर्द होता है। इसलिए, वह अब और चूल्हा नहीं छूता।

    जब वह और बड़ा होता है, तो उसे पता चलता है कि कभी-कभी चूल्हा छूना सुरक्षित होता है। जब बच्चा अपनी किशोरावस्था में पहुंचता है, तो उसे यह अनुभव होता है कि चूल्हा कब और कहाँ सुरक्षित होता है। अन्यथा कहा जाए, मानव अनुभव और परीक्षा-त्रुटि के माध्यम से चीजें सीखते हैं।

    यह परीक्षा-त्रुटि सीखने की विधि है कि आप एक बिल्ली को एक कुत्ते से भिन्न करना सीखते हैं। अपने जीवन की शुरुआत में, आपको नहीं पता था कि बिल्ली क्या होती है। फिर आपके माता-पिता ने आपको एक को दिखाया। फिर जैसे-जैसे आप बड़े होते गए, आपने और और बिल्लियों कोदेखा, इतना कि अब आप याद करते हैं कि बिल्ली कैसी दिखती है।

    मशीन लर्निंग AI एक ऐसा कंप्यूटर है जो इसी तरह सीखता है। जिस तरह आपके माता-पिता ने आपको बिल्ली क्या होती है यह सिखाया, शोधकर्ताओं ने कंप्यूटर को कई करोड़ों बिल्लियों की फोटोग्राफ़ देखा कर कैसे जाने के लिए सिखाया। वे कंप्यूटर को मानव-मानव पाठ के उदाहरणों को दिखा कर मानव जैसे पाठ को जानने के लिए सिखाते हैं। जो कंप्यूटर इस सब कर सकते हैं, वे अब हम उन्हें AI कहते हैं।

    कुछ AI के उदाहरण क्या हैं? | What Are Some Examples of AI in Hindi?

    AI का सबसे लोकप्रिय उदाहरण ChatGPT है। यह एक AI के मॉडल का हिस्सा है जिसे बड़े भाषा मॉडल कहा जाता है, जो (जैसा कि इसके “भाषा” नाम से पता चलता है) मानव जैसा पाठ उत्पन्न कर सकता है। गूगल पर जाएं, ChatGPT की खोज करें, और आज ही खुद को परीक्षण करें। यदि आप किसी को ईमेल लिखना चाहते हैं लेकिन आपको यह डर है कि आपका अंग्रेज़ी अच्छा नहीं है, तो इसकी चिंता न करें। बस जो अंग्रेज़ी प्राकृतिक लगती है, उसे उसी में लिखें, फिर ChatGPT में जाएं और उससे उस ईमेल को ठीक अंग्रेज़ी में पुनः लिखने के लिए कहें। आप उससे ईमेल को एक विशेष ध्वनि में (जैसे क्रोधित, सम्मानजनक, आत्मविश्वासी, आदि) लिखने के लिए भी कह सकते हैं। आप ChatGPT से नोट शीट, निबंध, कविता, कुछ भी लिखने के लिए कह सकते हैं।

    दूसरा शक्तिशाली परिवार AI है जनरेटिव AI। जैसा कि मैंने पहले कहा, शोधकर्ताओं को कंप्यूटरों को बिल्ली क्या होती है यह सिखाने के लिए करोड़ों उदाहरणों को दिखाना होता है। मानव कैसे अपनी याददाश्त के आधार पर बिल्ली क्या दिखती है, वैसे ही AI बिल्लियों की चित्र उत्पन्न कर सकता है। DALL-E, Midjourney, और Stable Diffusion जैसे पाठ-से-छवि AI उपकरण मानवों से प्रोम्प्ट लेते हैं और छवियाँ उत्पन्न करते हैं। यदि आप अपने फ़ोन या कंप्यूटर पर DALL-E पर जाएं और उसे खुशहाल पीली बिल्ली को उत्तर के रूप में दे, जो भूटान के पहाड़ों में एक कार्पेट पर धूप में बैठी है, तो वह आपको बिल्कुल वही छवि देगा। ये मॉडल वादा करते हैं कि उनकी उत्पन्न की गई छवियाँ हर बार अनूठी होंगी और जब भी उन्हें एक ही प्रोम्प्ट दिया जाए, तो विभिन्न उपयोगकर्ताओं को विभिन्न छवियाँ मिलेंगी।

    यदि आप वीडियो बनाना चाहते हैं, जनरेटिव AI उपकरणों जैसे Pictory AI मदद कर सकते हैं। आप ChatGPT से एक प्रस्ताव लिखने के लिए कह सकते हैं, फिर उस प्रस्ताव को Pictory AI में कॉपी-पेस्ट करके वीडियो बना सकते हैं। यदि आप अपने वीडियो की ध्वनि से खुश नहीं हैं, तो Adobe का पॉडकास्ट जैसे उपकरण ध्वनि रिकॉर्डिंग को सुधार सकता है। यह उपकरण हवा की ध्वनियों को साफ़ कर सकता है और रिकॉर्डिंग को स्टूडियो में किया गया लगने का अहसास दिला सकता है।

    कई अन्य AI उपकरणों के और उदाहरण हैं, और मैं उनमें से अधिक के बारे में लिखने की आशा करता हूँ। हालांकि, अब हमें AI से संबंधित बड़े चित्र को देखने की आवश्यकता है।

    Read this also: 

    विचारधारा का आउटसोर्सिंग? | Outsourcing Thinking in Hindi?

    मेरे काम का हिस्सा होने के नाते Nyingnor में, मैंने भूटान में कई लोगों को डिजिटल जगह में प्रशिक्षण दिया है, जिसमें हर मीडिया हाउस के पत्रकार भी शामिल हैं। हाल ही में, मैंने AI उपकरणों का शिक्षण देना शुरू किया, और प्रतिक्रिया अत्यधिक सकारात्मक रही है। हालांकि, हाल ही में एक टिप्पणी ने मुझे सोचने पर मजबूर किया। किसी ने कहा कि ये AI उपकरण उन्हें अपने विचारों को कंप्यूटरों को आउटसोर्स करने का अहसास कराते हैं और वे हमारे भविष्य के बारे में चिंतित होते हैं। यह टिप्पणी अकेली नहीं है, और दुनिया भर में AI उपकरणों के बारे में बढ़ती भावना है कि वे खतरनाक हैं और मानव कंप्यूटरों पर निर्भर बना सकते हैं।

    AI: Frequently Asked Questions (FAQs) | कृत्रिम बुद्धिमत्ता: अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

    1. AI क्या है?

    AI का अर्थ है कृत्रिम बुद्धिमत्ता। यह मानव बुद्धिमत्ता की तरह कार्य करने की क्षमता रखने वाले कंप्यूटर सिस्टमों के विकास को संदर्भित करता है, जैसे कि दृष्टिगत बुद्धिमत्ता, भाषा संज्ञान, निर्णय लेना, और भाषा अनुवाद।

    2. AI के कुछ उदाहरण क्या हैं?

    AI के कुछ उदाहरण में सिरी और अलेक्सा जैसे वर्चुअल असिस्टेंट्स, Netflix और Amazon जैसे सिफारिश प्रणालियों, स्वतंत्र वाहन, चिकित्सा निदान प्रणालियाँ, और चैटबॉट्स शामिल हैं।

    3. AI कैसे काम करता है?

    AI सिस्टम विशाल मात्रा में डेटा का विश्लेषण करके इस डेटा में पैटर्न खोजकर पूर्वानुमान या निर्णय लेने की क्षमता को विकसित करते हैं। मशीन लर्निंग, AI का एक उपसमूह, डेटा पर अल्गोरिदम को प्रशिक्षित करके पैटर्न सीखने और निर्णय लेने को शामिल करता है।

    4. AI के क्या लाभ हैं?

    AI के प्रमुख लाभों में उद्योगों की क्रांति, कुशलता में सुधार, निर्णय लेने की प्रक्रिया को बेहतर बनाने, और नवाचारी उत्पादों और सेवाओं के विकास की क्षमता शामिल है। यह उत्कृष्टता को स्वतंत्र कार्यों को स्वतंत्र करने, अनुभव को व्यक्तिगत बनाने, और विभिन्न क्षेत्रों में मानवों की सहायता करने में सक्षम है।

    5. AI के साथ कौन-कौन से चुनौतियाँ और जोखिम हैं?

    लाभों के बावजूद, AI के साथ कई चुनौतियाँ और जोखिम भी हैं। इनमें स्वचालन के कारण नौकरियों की अवसादना के संदेह, AI अल्गोरिदमों में पूर्वाग्रह, डेटा गोपनीयता और सुरक्षा संबंधित मुद्दे, AI प्रौद्योगिकी के दुरुपयोग या दुरुपयोग के संभावना, और AI विकास और अपडेट पर नैतिक संवेदनशीलता के बारे में चिंताएं शामिल हैं।

    6. AI को नैतिक और जिम्मेदारीपूर्ण तरीके से कैसे उपयोग किया जा सकता है?

    AI के नैतिक और जिम्मेदारीपूर्ण उपयोग सुनिश्चित करने के लिए, इसमें पारदर्शिता, जवाबदेही, निष्पक्षता, और गोपनीयता को प्राथमिकता देना महत्वपूर्ण है। इसमें AI अल्गोरिदम्स में पूर्वाग्रहों से मुक्त डिज़ाइन, डेटा का उचित एकत्रण और उपयोग, AI निर्णयों की स्पष्ट व्याख्या प्रदान करना, और संवेदनशील जानकारी की सुरक्षा मानदंडों की लागूयोग्यता शामिल है।

    7. AI का भविष्य क्या है?

    AI का भविष्य विभिन्न उद्योगों में नवाचार और परिवर्तन के लिए अत्यधिक संभावनाओं के साथ है। जैसे ही AI प्रौद्योगिकियाँ आगे बढ़ेंगी, हमें दिनचर्या जीवन में इसे और अधिक गहराई से समाहित किया जाएगा, और अधिक विकसित AI एप्लिकेशन के विकास की अपेक्षा की जा सकती है।

    समापन : | Conclusion :

    इस नई तकनीक की अभिवृद्धि के साथ, हमें न केवल नवीनतम संचार उपकरणों का उपयोग करने के लिए तैयार होना चाहिए, बल्कि हमें इसके साथ उत्पन्न होने वाले चुनौतियों और संभावित निराशा के साथ भी सामना करना चाहिए। AI और उसके उपकरणों का उपयोग करने से पहले, हमें ध्यान में रखना चाहिए कि यह केवल एक उपकरण है, जो हमारी विचारशक्ति और निर्णय-निर्माण क्षमता को समर्थन करने के लिए है, न कि हमें उससे पूरी तरह से निर्भर बना देना चाहिए। सही उपयोग किया गया, यह तकनीक हमें नये और स्थिर समाधान प्रस्तुत कर सकती है, लेकिन अगर हम इसे गलत तरीके से उपयोग करते हैं, तो यह हमें परेशानी में डाल सकती है। इसलिए, हमें सजग रहना और इस नई तकनीक के साथ सावधानी से बदलाव करते रहने की जरूरत है।

    Page★★★★★
    HomeClick ……….
    About UsClick ……….
    Contact UsClick ……….
    Twspost news times

    Leave a Comment

    Discover more from Twspost News Times

    Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

    Continue reading