Cyclone Yaas : ओडिशा के बाद बंगाल में दस्तक, 3.8 तीव्रता का भूकंप, तेज हवाओं के साथ बारिश, झारखंड-बिहार में अलर्ट

कोलकाता/उड़ीसा। इस साल के दूसरे चक्रवात ‘यस’ ने बंगाल में भूकंप के साथ ओडिशा में दस्तक दे दी है। जलपाईगुड़ी में बुधवार दोपहर 3.8 तीव्रता का भूकंप आया। इसका केंद्र 5 किलोमीटर की गहराई पर मालबाजार में बताया जा रहा है. तूफान से हुई मूसलाधार बारिश के बाद हावड़ा में गंगा नदी का जलस्तर बढ़ गया है. बेलूर मठ के अंदर नदी का पानी भरा हुआ है।

इस साल के दूसरे चक्रवात 'यस' ने बंगाल में भूकंप के साथ ओडिशा में दस्तक दे दी है। जलपाईगुड़ी में बुधवार दोपहर 3.8 तीव्रता का भूकंप आया। इसका केंद्र 5 क

इससे पहले ‘यस’ सुबह करीब नौ बजे ओडिशा के भद्रक जिले के तट से टकराया था। तूफान के साथ तेज हवाएं भी चलती हैं। समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं। कई कॉलोनियां समुद्र के पानी से भर गई हैं। 10.30 से 11.30 के बीच यस बालासोर से करीब 20 किलोमीटर दक्षिण में गुजरा। इस दौरान 140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलती हैं। तूफान का असर बंगाल, बिहार, झारखंड, तमिलनाडु और कर्नाटक में देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग (IMD) ने तूफान के आने की पुष्टि की है।

#WATCH ओडिशा: भद्रक ज़िले के धामरा में तेज हवाएं और बारिश की वजह से समुद्र का पानी बढ़ा। पानी बढ़ने की वजह से रिहायशी इलाकों में पानी घुसा।

मौसम विभाग के अनुसार, #CycloneYaas की लैंडफॉल की प्रक्रिया जारी है। इसे पूरा होने में करीब 3 घंटे का समय लगेगा। pic.twitter.com/Fg5mSvHJJS

— ANI_HindiNews (@AHindinews) May 26, 2021

IMD महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बताया कि कल सुबह ये झारखंड पहुंचेगा तब इसके हवा की गति 60-70 किलोमीटर प्रति घंटे होगी। इसकी सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाली हवा बालेश्वर, भद्रक और पश्चिम बंगाल के मिदिनीपुर में चल रही है। ओडिशा के अंदर के ज़िलों में भी हवा की गति 60-70 किलोमीटर प्रति घंटे रहेगी। तूफान बालेश्वर के दक्षिण में ओडिशा तट को पार कर रहा है। अभी इसके हवा की गति 130-140 किलोमीटर प्रति घंटे है। लैंडफॉल प्रक्रिया अभी चल रही है जो 3 घंटे में पूरी होगी। इसके बाद ये कमजोर होकर उत्तर पश्चिम दिशा में गति करेगा।

IMD महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बताया कि झारखंड में आज और कल भारी से भारी बारिश हो सकती है। बिहार, सब हिमालयन पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भी आज और कल आइसोलेटेड भारी बारिश से भारी बारिश हो सकती है। असम मेघालय में भी आज आइसोलेटेड भारी बारिश होने की उम्मीद है। ये सभी हवा की गति आज रात तक रहेगी उसके बाद काफी हद तक कम हो जाएगी। आज भी उत्तर ओडिशा और तटीय ओडिशा में भारी से भारी बारिश होने की संभावना है। पश्चिम बंगाल में भी आज आइसोलेटेड भारी से बहुत भारी बारिश होगी, कल भी अंदर के ज़िलों में बारिश हो सकती है।
 

165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं
मौसम विभाग के मुताबिक यास तूफान के पारादीप और सागर आइलैंड के बीच बुधवार को टकराने के आसार हैं। इसके असर से 165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं और 2 मीटर से 4.5 मीटर तक लहरें उठ सकती हैं। 

हवाई सेवाओं से लेकर ट्रेन तक रद्द
ओडिशा और बंगाल के तटीय इलाकों में बारिश जारी है। कुछ ही घंटों में तूफान ओडिशा के तट से टकराएगा। यास चक्रवात तूफान की वजह से खराब हुए मौसम के कारण कोलकाता एयरपोर्ट से आज सुबह 8:30 बजे से उड़ने वाली फ्लाइट्स को शाम 7:45 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया है। वहीं, भारतीय रेलवे ने ओडिशा-बंगाल की सभी ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है। तूफान के अलर्ट के कारण ओडिशा-बंगाल के अलावा बिहार एवं झारखंड की भी कई ट्रेनें रद्द की गई हैं।

राज्यपाल ने लिया स्थिति का जायजा
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ कोलकाता के अलीपुर स्थिति मौसम विभाग के ऑफिस पहुंचे। यहां उन्होंने चक्रवात से निपटने के लिए मौजूद साधनों का जायजा लिया।
रेलवे ने रद्द की ट्रेनें
ईस्टर्न रेलवे ने मालदा-बालुरघाट पैसेंजर ट्रेन को 26 और 27 मई के लिए रद्द कर दी। वहीं, बंगाल के ईस्ट मिदनापुर में चक्रवात के दौरान एक्सीडेंट से बचाने के लिए ट्रेनों को चैन से बांधा गया।
शेल्टर होम में शिफ्ट किए गए लोग
ओडिशा के बासुदेवपुर में 300-400 लोगों को शेल्टर होम में शिफ्ट किया गया है। यहां भोजन समेत सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हैं। धमरा में तेज बारिश के साथ जमकर आंधी चली।
11.2 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि 11.2 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया। हालिशहर में 40 हजार से ज्यादा घरों को नुकसान हुआ। इस दौरान 4-5 लोग घायल भी हुए। छुछुरा में भी करीब इतने ही घर क्षतिग्रस्त हुए, जबकि पंदुआ में बिजली गिरने से 2 लोगों की मौत भी हुई।
ओडिशा के हाई रिस्क जोन में तब्दील हुए ये जिले
1.बालासोर
2.भद्रक
3.केंद्रपारा
4.जगतसिंघपुर
5.मयूरभंज 
6.केओनझार 
 

ओडिशा के दक्षिण में बालासोर के पास बढ़ रहा है ‘यास’

VERY SEVERE CYCLONIC STORM ‘YAAS’ CENTRED ABOUT 40 KM EAST OF DHAMRA AND 90 KM SOUTH-SOUTHEAST OF https://t.co/usAtM8ohaq CROSS NORTH ODISHA-WEST BENGAL COASTS TO THE NORTH OF DHAMRA AND SOUTH OF BALASORE NOON OF 26TH MAY AS A VSCS WITH WIND SPEED OF 130-140 KMPH. pic.twitter.com/UW0y8KfJRE

— India Meteorological Department (@Indiametdept) May 26, 2021

पश्चिम बंगाल में चक्रवात ‘यास’ का असर

#WATCH पश्चिम बंगाल: पूर्वी मिदनापुर के दीघा में तेज़ हवाओं के साथ समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं। #CycloneYaas pic.twitter.com/EAqrjVu7sk

— ANI_HindiNews (@AHindinews) May 26, 2021

ओडिशा राज्य में चक्रवात ‘यास’ का असर

#WATCH ओडिशा: बालासोर ज़िले के चांदीपुर में तेज़ हवा चलने के साथ बारिश हो रही है। #CycloneYaas pic.twitter.com/5VaoMr9GqZ

— ANI_HindiNews (@AHindinews) May 26, 2021

धामरा में लैंडफॉल होने की उम्मीद है- मौसम विभाग

#WATCH ओडिशा: भद्रक ज़िले के धामरा में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। #CycloneYaas

‘भीषण चक्रवाती तूफान’ आज दोपहर तक 130-140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओं के साथ लैंडफॉल होने की उम्मीद है: मौसम विभाग pic.twitter.com/SNEwccePeV

— ANI_HindiNews (@AHindinews) May 26, 2021

Twspost news times

Leave a Comment

Discover more from Twspost News Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading