Fake news फैलाने वाले 35 YouTube चैनल और 2 website 2 Twitter accounts blocks, Pakistan से हो रहे थे ऑपरेट

भारत सरकार ने एक बार फिर पाकिस्तान पर डिजिटल स्ट्राइक की है. सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर की चेतावनी के एक दिन बाद सरकार ने 35 YouTube channels, 2 Twitter accounts, 2 Instagram accounts, 2 websites और एक Facebook account को ब्लॉक कर दिया है. यह कार्रवाई IT नियमों के तहत की गई है। ये सभी खाते पाकिस्तान से संचालित हो रहे थे।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
Fake news

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा और संयुक्त सचिव विक्रम सहाय ने शुक्रवार को इस मुद्दे पर प्रेस वार्ता की. विक्रम सहाय ने कहा कि मंत्रालय को 20 जनवरी को मिली खुफिया जानकारी के आधार पर हमने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर कार्रवाई की है. ये सभी फर्जी खबरें और भारत विरोधी दुष्प्रचार फैला रहे थे। वहीं, अपूर्व चंद्रा ने कहा कि ब्लॉक किए गए यूट्यूब चैनलों के 12 मिलियन सब्सक्राइबर और 130 मिलियन से ज्यादा व्यूज थे।

भारतीय खुफिया एजेंसियां ​​इन सोशल मीडिया अकाउंट्स और वेबसाइट्स पर नजर रखे हुए थीं. यह देखा गया कि ये सभी नेटवर्क झूठी खबरें फैलाकर भारतीयों को गुमराह करने के उद्देश्य से चलाए जा रहे थे। ये चैनल एक नेटवर्क का हिस्सा थे और सामान्य हैशटैग और संपादन शैलियों का उपयोग कर रहे थे। इन्हें आम लोग चलाते थे। ये सभी एक दूसरे के कंटेंट का प्रमोशन भी कर रहे थे। कुछ यूट्यूब चैनल पाकिस्तानी टीवी न्यूज चैनलों के एंकर चला रहे थे।

अनुराग ठाकुर ने दी थी कार्रवाई की चेतावनी

एक दिन पहले गुरुवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने चेतावनी दी थी कि देश के खिलाफ साजिश करने वालों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई जारी रहेगी. अनुराग ठाकुर ने कहा था कि भारत विरोधी सामग्री फैलाने और साजिश रचने वाले वेबसाइट-चैनलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

फेक न्यूज फैलाने वाले 35 यूट्यूब चैनल और 2 वेबसाइट्स ब्लॉक, पाक से हो रहे थे ऑपरेट

सेना, सीडीएस, कश्मीर पर फैला रहे थे नफरत

केंद्र सरकार ने बताया कि ये चैनल और वेबसाइट्स पाकिस्तान से ऑपरेट हो रहे थे और कई संवेदनशील मुद्दों पर फेक न्यूज फैला रहे थे. ये चैनल कश्मीर, सेना, भारत में रहने वाले अल्पसंख्यकों, राम मंदिर और दिवंगत जनरल बिपिन रावत को लेकर भड़काऊ और बांटने वाला झूठ फैला रहे थे.

इन ग्रुप पर हुई कार्रवाई

भारत के खिलाफ झूठी खबरों की मुहिम में ‘द नया पाकिस्तान ग्रुप’ (NPG) शामिल है. यह पाकिस्तान से ऑपरेट कर रहा था. इसके यू-ट्यूब चैनल के कई नेटवर्क हैं और इसके अलावा भी गई चैनल इसमें शामिल हैं. इन चैनल्स के कुल मिलाकर सबस्क्राइबर 35 लाख से ऊपर हैं और इनके वीडियो 55 करोड़ से ज्यादा बार देखे जा चुके थे. नया पाकिस्तान ग्रुप की फेक न्यूज में कई बार पाकिस्तानी न्यूज चैनल्स के एंकर भी दिखाई दिए हैं.

20 यूट्यूब चैनल पहले हुए थे ब्लॉक

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने पिछले साल दिसंबर में खुफिया एजेंसियों के साथ मिलकर 20 यूट्यूब चैनल और दो वेबसाइट को ब्लॉक करने का आदेश दिया था। वजह वे भारत विरोधी दुष्प्रचार और फर्जी खबरें फैला रहे थे। मंत्रालय ने दिसंबर में एक बयान में कहा था कि ये यूट्यूब चैनल और वेबसाइट पाकिस्तान से चलने वाले नेटवर्क से जुड़े हैं।

किसान आंदोलन में भी आग में घी का कर रहे थे काम

ये यू-ट्यूब चैनल किसान आंदोलन, नागरिकता अधिनियम जैसे मुद्दों में भी आग में घी डालने का काम कर रहे थे. ये चैनल्स देश के अल्पसंख्यकों को भारत सरकार के खिलाफ भड़का रहे थे. यह भी आशंका थी कि ये चैनल्स पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में लोकतांत्रिक प्रक्रिया में बाधा बनना चाहते थे. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भारत के सूचना क्षेत्र को सुरक्षित रखने के लिए इमरजेंसी शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए IT रूल्स 2021 के 16 नंबर नियम का इस्तेमाल किया. मंत्रालय ने पाया कि अधिकतर सामग्री राष्ट्रीय सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील है और तथ्यात्मक रूप से गलत है. भारत विरोधी यह सामग्री पाकिस्तान की ओर से पोस्ट की जा रही थी. इस वजह से यह इमरजेंसी स्थिति में ब्लॉक करने के प्रावधान की शर्त को पूरा करती है.

किस तरह की सामग्री का कर रहे प्रसार?

जिन यूट्यूब चैनलों और वेबसाइट्स को बैन किया गया, उनमें भारत विरोधी कंटेंट की भरमार थी। सबसे बड़ी बात यह है कि इन्हें भारत में भावनाएं भड़काने के लिए ही पोस्ट किया गया। इनके कुछ पोस्ट्स के शीर्षक थे- 

– ‘अनुच्छेद 370 हटाने की वजह से बाइडन-अर्दोआन ने किया कश्मीर में सेना भेजने का निर्णय।’  

– ‘तुर्की की सेना नई देहली में घुसने वाली है।’

– ‘अफगान तालेबान ने भारत के 300 जासूसों को फांसी देकर मोदी और योगी को दिया साफ संदेश।’

– तैयब अर्दोआन ने किया राम मंदिर की जगह मस्जिद निर्माण का एलान। मोदी-योगी मुश्किल में।

कौन-कौन से चैनल कर रहे थे भारत की जनता को प्रभावित?

1. द पंच लाइन

सब्सक्राइबर: 1.16 लाख 

व्यूज: 2.01 करोड़

क्या था कंटेंट

– कश्मीर में लगे इमरान खान जिंदाबाद के नारे, भारत सरकार-सेना के लिए बड़ी खबर

– 57 इस्लामिक देशों ने किया मुस्लिमों के समर्थन का फैसला, बायकॉट इंडिया अभियान चरम पर।

2. हिस्टॉरिकल फैक्ट्स

सब्सक्राइबर: 9.44 लाख 

व्यूज: 16 करोड़

क्या था कंटेंट

– अर्दोआन कश्मीर में 35 हजार हत्यारों को भेजने वाले हैं।

– तुर्की की सेना अयोध्या के राम मंदिर में बदला लेने के लिए घुसी। 

3. नया पाकिस्तान ग्लोबल

सब्सक्राइबर: 7.76 लाख 

व्यूज: 9.68 करोड़

क्या था कंटेंट

– बाबरी मस्जिद पर मोदी ने मानी अपनी गलती।

– सीएए, एनआरसी और अनुच्छेद 370 पर फैसला लेगा इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे)।

4. पंजाब वायरल

सब्सक्राइबर: जानकारी नहीं

व्यूज: 14.80 लाख

क्या था कंटेंट

– कश्मीर मुजाहिद्दीन ने भारतीय सेना के 6 बेड़ों पर किया हमला।

– मोदी सरकार के पांच मंत्रियों ने मोदी, शाह और राजनाथ सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला।

5. द नेकेड ट्रूथ

सब्सक्राइबर: 4.61 लाख 

व्यूज: 8.89 करोड़

क्या था कंटेंट

– बाबरी मस्जिद पर पांच देशों के गठबंधन ने लिया जबरदस्त फैसला।

– भारतीय सेना की कश्मीर में हुई हार, स्थितियां बदलीं।

जिन वेबसाइट्स और चैनल्स पर रोक लगाई गई थी वे भारत में कश्मीर, भारतीय सेना, जनरल बिपिन रावत, राम मंदिर और अल्पसंख्यक समुदायों के विषय में झूठी खबरें चला रहे थे। केंद्र सरकार ने कार्रवाई के साथ ही इन चैनल्स की एक लिस्ट भी जारी की थी।

ब्लॉक किए गए 20 यूट्यूब चैनल की लिस्ट

  1. The Punch Line
  2. InternationalWeb News
  3. Khalsa TV
  4. The Naked Truth
  5. News24
  6. 48 News
  7. Fictional
  8. Historical Facts
  9. Punjab Viral
  10. Naya Pakistan Global
  11. Cover Story
  12. Go Global eCommerce
  13. Junaid Haleem Official
  14. Tayyab Hanif
  15. Zain Ali Official
  16. Mohsin Rajput Official
  17. Kaneez Fatima
  18. Sadaf Durrani
  19. Mian Imran Ahmad
  20. Najam Ul Hassan Bajwa
Twspost news times

0 thoughts on “Fake news फैलाने वाले 35 YouTube चैनल और 2 website 2 Twitter accounts blocks, Pakistan से हो रहे थे ऑपरेट”

Leave a Comment

Discover more from Twspost News Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

PM Kisan 17th Installment Date 2024 The Swarved Mahamandir Dham June 2024 New Rules: 1 जून से बदलने वाले हैं Alia Bhatt’s Stunning Saree in “Rocky Aur Rani Ki Prem Kahani”