वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को लोकसभा के फर्श (Floor of the Lok Sabha) पर अगले वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए केंद्रीय बजट (Central budget) पेश किया। निर्मला सीतारमण ने लगातार तीसरी बार (Third time in a row) आम बजट (General budget) पेश किया है। कोरोना महामारी संकट के बाद केंद्र सरकार का यह पहला बजट है। लोकसभा में वित्त मंत्री(Finance Minister) ने बजट भाषण (बजट भाषण) में कहा कि जिस तरह से इस बार बजट बनाया गया, वैसा पहले कभी नहीं हुआ।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को लोकसभा के फर्श (Floor of the Lok Sabha) पर अगले वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए केंद्रीय बजट (Central budget) पेश किया। निर्मला सीतारमण ने लगातार तीसरी बार (Third time in a row) आम बजट (General budget) पेश किया है। कोरोना महामारी संकट के बाद केंद्र सरकार का यह पहला बजट है।

उन्होंने कहा कि यह एक बड़ी चुनौती थी क्योंकि पिछले बजट के समय यह नहीं पता था कि वैश्विक अर्थव्यवस्था का भविष्य (Future of economy) क्या होगा। भारत ने कोरोनावायरस (Coronavirus) संकट का बुरी तरह सामना किया और आपदा को एक अवसर में बदल दिया। वित्त मंत्री ने कहा कि भारत के लिए 27.1 करोड़ रुपये के आत्मनिर्भर पैकेज (Self-sufficient package) की घोषणा की गई है, जिसमें देश की जीडीपी (GDP) का 13 प्रतिशत हिस्सा है।

1. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश करते हुए एक आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना (Self-sustaining health plan) की घोषणा की, जिसकी लागत 64,480 करोड़ रुपये होगी। उन्होंने कहा कि यह प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा (Primary healthcare)  से लेकर उच्च स्तर तक की स्वास्थ्य सेवाओं (Health services) पर खर्च किया गया था।

2. 13,000 किमी से अधिक की सड़कों को पहले ही 3.3 लाख करोड़ रुपये की लागत से 5.35 लाख करोड़ रुपये की भारतमाला परियोजना (Bharatmala Project) के तहत सम्मानित किया जा चुका है, जिसमें से 3,800 किलोमीटर का निर्माण किया जा चुका है। मार्च 2022 तक, 8,500 किमी और राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारे के अतिरिक्त 11,000 किमी को पूरा किया जाएगा।

वर्ष 2021-22 में 2,23,846 करोड़ रुपये स्वास्थ्य और परिवार कल्याण|Health and Family Welfare पर खर्च किए जाएंगे

4. सिटी स्वच्छ भारत मिशन 2.0 लॉन्च किया जाएगा। शहरी स्वच्छ भारत मिशन 2.0 2021-2026 से 5 वर्षों की अवधि में कार्यान्वित किया जाएगा, जिसमें 1,41,678 करोड़ रुपये का वित्तीय आवंटन होगा।

5. भारत में बना न्यूमोकोकल वैक्सीन वर्तमान में केवल 5 राज्यों तक ही सीमित है, इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा। इससे एक वर्ष में 50,000 से अधिक बच्चों की मृत्यु को रोका जा सकेगा:

6. जल जीवन मिशन (शहरी) शुरू किया जाएगा, इसका उद्देश्य 4,373 शहरी शहरी निकायों में 2.86 करोड़ घरेलू नल कनेक्शनों को सार्वभौमिक जल आपूर्ति प्रदान करना (Providing universal water supply) है

7. केंद्र की एक नई योजना प्रधान मंत्री स्व-विश्वसनीय स्वस्थ भारत योजना |Self-Reliable Healthy India Scheme शुरू की जाएगी, इस योजना पर 6 वर्षों में लगभग 64,180 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

8.2021-22 का बजट 6 स्तंभों पर टिकी हुई है। पहला स्तंभ स्वास्थ्य और कल्याण, दूसरा – भौतिक और वित्तीय पूंजी और बुनियादी ढाँचा, तीसरा – समावेशी भारत के लिए समावेशी विकास (Overall development), मानव पूंजी का नवाचार (Innovation of human capital), पाँचवाँ – नवाचार और अनुसंधान और विकास, छठा स्तंभ – न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन (Minimum Government and Maximum Governance)।

9.2023 के अंत तक 100% ब्रॉड गेज विद्युतीकरण, बीमा क्षेत्र में FDI 49% से बढ़कर 74% हो जाएगा

10. रेलवे ने राष्ट्रीय रेल योजना 2030 बनाई है, भविष्य के तैयार कॉरिडोर (Future ready corridors) खड़गपुर-विजयवाड़ा, भुसावल-खड़गपुर, इटारसी-विजयवाड़ा में बनाए जाएंगे। दिसंबर 2023 तक 100% ब्रॉड गेज विद्युतीकरण (Broad gauge electrification) होगा।

11. एक बीमा कंपनी और दो सार्वजनिक बैंकों का निजीकरण(Privatization of two public banks) किया जाएगा। आईडीबीआई (IDBI) के साथ, दो बैंकों और एक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी में विनिवेश होगा। इसके लिए कानून में बदलाव (Change in law) होंगे। LIC के लिए IPO भी लाया जाएगा।

12. ऑपरेशन ग्रीन (Operation green)  में 22 फसलें शामिल थीं।

13. बैंकों के अधीनस्थ ऋण (Subordinated debt) की वसूली पर जोर दिया जा रहा है।

14. वित्त मंत्री ने कहा कि 2013-14 की तुलना में दालों (Compared pulses) के लिए 40 गुना अधिक भुगतान किया जा रहा है।

15.15000 से अधिक स्कूलों को मानक स्कूल (Standard school) बनाया जाएगा।

16. सभी श्रमिकों को ईएसआई (ESI) के दायरे में लाया जाएगा

17. महिलाओं को सभी श्रेणियों (All categories) में काम करने की अनुमति होगी। वे नाइट शिफ्ट (Night shift) में भी काम कर सकते हैं।

18.सरकारी बैंकों में 20,000 करोड़ का निवेश किया जाएगा, एनपीए से छुटकारा पाने के लिए एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (Asset Reconstruction Company) और एसेट मैनेजमेंट कंपनी (Asset Management Company) बनाई जाएगी।

19.आप 19.182 दिनों के बजाय 120 दिनों में एक कंपनी शुरू कर सकते हैं। स्टार्टअप्स के लिए यह एक बड़ी मदद होगी। छोटी कंपनियों की परिभाषा भी बदलेगी।

20. लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central university) की स्थापना की जाएगी।

आम आदमी बढ़ती महंगाई और खर्चों से डरता है, लोगों ने सर्वेक्षण में यह कहा Union budget

ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं, RBI गवर्नर(Governor) ने कहा- विकास दर 10.5 प्रतिशत होगी https://t.co/2bVQiZAALP pic.twitter.com/5UoytmLKbT

— Twspost newstoday (@twspost) February 5, 2021

Twspost news times

By Suraj

Twspost News Times is a professional blogging and news platform delivering engaging content in Hindi. Founded by Suraj Singh, it serves as a comprehensive source of Indian news and media. With a focus on providing interesting and informative content, Twspost News Times caters to a wide audience seeking reliable news and entertainment in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Twspost News Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

PM Kisan 17th Installment Date 2024 The Swarved Mahamandir Dham June 2024 New Rules: 1 जून से बदलने वाले हैं Alia Bhatt’s Stunning Saree in “Rocky Aur Rani Ki Prem Kahani”